Fast Newz 24

Mount Kailash: माउंट एवरेस्ट से कम ऊंचा होने पर भी आज तक कोई क्यों नहीं चढ़ पाया कैलाश पर्वत पर? ये है रहस्य

Mount Kailash Facts: क्या आप जानते हैं कि शिव के निवास स्थान कैलाश पर्वत की ऊंचाई... The post Mount Kailash: माउंट एवरेस्ट से कम ऊंचा होने पर भी आज तक कोई क्यों नहीं चढ़ पाया कैलाश पर्वत पर? ये है रहस्य appeared first on Fast Newz 24.
 
Mount Kailash: माउंट एवरेस्ट से कम ऊंचा होने पर भी आज तक कोई क्यों नहीं चढ़ पाया कैलाश पर्वत पर? ये है रहस्य

Mount Kailash Facts: क्या आप जानते हैं कि शिव के निवास स्थान कैलाश पर्वत की ऊंचाई माउंट एवरेस्ट से 2 हजार मीटर कम है। 8,849 मीटर ऊंची माउंट एवरेस्ट (Mount Everest) पर हजारों लोग चढ़ चुके हैं, लेकिन आज तक कोई भी 6,638 ऊंची कैलाश पर्वत की चोटी पर क्यों नहीं चढ़ पाया है।

ये एक ऐसा अद्भुत रहस्य है जिसका खुलासा आज तक नहीं हुआ। कैलाश पर्वत (Mount Kailash) के सामने रूस-चीन जैसे देश भी हार गए हैं। कहा जाता है कि कैलाश पर्वत के स्वामी स्वयं भगवान शिव महादेव हैं। भोलेनाथ अपने गणों के साथ कैलाश पर्वत पर निवास करते हैं। ऐसा दावा किया जाता है कि भगवान शिव किसी इंसान को कैलाश पर आने की इजाजत ही नहीं देते हैं। दूसरी तरफ, तमाम रिसर्च होने पर भी अलग-अलग दावे किए गए आइए जानते हैं इन दावों के बारे मे (Mount Kailash Facts) …

आज तक कैलाश पर कोई क्यों नहीं चढ़ पाया? (Reasons why no one could climb Kailash?)

1। ऐसी मान्यता है कि असुरों ने भी कई बार कैलाश पर्वत पर चढ़ाई करने की कोशिश की थी लेकिन कभी फतेह हांसील नहीं कर सके। ऐसा भी दावा किया जाता है कि महादेव कैलाश पर अपने गणों के अलावा किसी को आने की इजाजत नहीं देते हैं।

2। दावा किया जाता है कि भगवान शिव के कैलाश पर्वत पर जो भी चढ़ने की कोशिश करता है, उसके बाल और नाखून बहुत तेजी से बढ़ने लगते हैं। इस वजह से भी कोई आगे नहीं बढ़ पाता।

Rapid Rail जल्द ही दिल्ली मेरठ रूट पर दौड़ेगी, सुविधा हवाई जहाज जैसी, टिकट के दाम रहेंगे इतने

3। कहा जाता है कि कैलाश पर्वत बहुत ज्यादा रेडियोएक्टिव (radioactive mountain) है। दावा है कि कैलाश पर्वत पर चढ़ने की कोशिश करते वक्त इंसान दिशाहीन हो जाता है और ऊपर चोटी पर चढ़ ही नहीं पाता।

4। कैलाश पर्वत पर साल 1999 में रूस की टीम भी रिसर्च कर चुकी है, जिसमें कहा गया था कि कैलाश पर्वत की चोटी प्राकृतिक नहीं है। वो एक पिरामिड कि तरह है। इसलिए इसे शिव पिरामिड भी कहते है। दावा किया गया कि कैलाश पर चढ़ाई करने वाला बिना चढ़े ही वापस लौटा या मर गया।

5। चीन भी कैलाश के सामने हार मान गया। चीनी सरकार के निर्देश पर कुछ पर्वातारोही कैलाश की चोटी फतह करने तो गए लेकिन उन्हें कामयाबी हाथ नहीं लगी। चीनी सरकार को यहीं हार मनानी पड़ी।

6। कहा जाता है कि जो भी कैलाश पर्वत पर चढ़ने जाता है उसका हृदय परिवर्तन हो जाता है और वह वापस लौट आता है। दावा किया जाता है कि कैलाश पर चढ़ने की कोशिश करने वाले के चेहरे पर बुढ़ापा दिखाई देने लगता है।

7। ऐसा भी दावा किया जाता है कि एवरेस्ट पर चढ़ाई करना तकनीकी रूप से आसान है। पर कैलाश पर चढ़ने का कोई रास्ता नहीं। यहां हर तरफ खड़ी चट्टानें हैं। लेकिन कैलाश पर्वत पर नहीं चढ़ पाने की बात अभी तक रहस्य एक रहस्य है।

The post Mount Kailash: माउंट एवरेस्ट से कम ऊंचा होने पर भी आज तक कोई क्यों नहीं चढ़ पाया कैलाश पर्वत पर? ये है रहस्य appeared first on Fast Newz 24.