Fast Newz 24


Roti : एक दिन में सिर्फ इतनी खानी चाहिए रोटी, जानिए शरीर के लिए कितनी रहेगी सही

भारतीय थाली का ये जरूरी व्यंजन गेंहू के आटे से तैयार किया जाता है और रोटी, फुल्के, परांठा या पूरियों के रूप में भोजन में शामिल होता है। उत्तर भारत में रोटी खाने का प्रचलन ज्यादा है। 
 
एक दिन में सिर्फ इतनी खानी चाहिए रोटी, जानिए शरीर के लिए कितनी रहेगी सही

Fast News24:  ये तो हम सभी जानते हैं कि अच्छी सेहत (Health) के लिए अच्छा खानपान (Healthy Diet) बेहद जरूरी है। खाने में सही चीजों को शामिल करना जितना जरूरी है उतना ही महत्वपूर्ण ये भी है कि आप उन चीजों को कितनी मात्रा में खा रहे हैं। ठीक है ऐसा ही आपके खाने की थाली में रखी रोटी (Chapati) के साथ भी है।  खाने की थाली में जब तक रोटी सब्जी और दाल चावल ना हो खाना पूरा नहीं होता। वहीं ज्यादातर लोगों को तो रोटी ही भाती है। आमतौर पर घर घर में दो या तीन बार रोटियां खाई जाती है।

सामान्य तौर पर रोटी को चावल से ज्यादा पौष्टिक माना जाता है। वेट लॉस करने के लिए भी लोग चावल के बजाए रोटी खाना ज्यादा पसंद करते हैं। लेकिन अति किसी भी चीज की अच्छी नहीं हाती है। इसके साथ ही रोटी खाने के लिए सही समय (Right time of eating) का ध्यान रखना भी जरूरी है, आइए जानते हैं एक दिन में कितनी रोटियां खाना (How Many Chapati In a Day is Beneficial) सेहत के लिए हैं फायदेमंद और कब कर सकती हैं नुकसान।
1 दिन में कितनी रोटी खाना फायदेमंद (How Many Chapati In a Day is Beneficial)

इतनी रोटियां हैं काफी (How Much Roti are Enough)

गेंहू के आटे से तैयार एक रोटी में लगभग 104 कैलोरी होती है। विशेषज्ञों के अनुसार महिलाओं के लिए दो रोटी सुबह और दो रोटी शाम को काफी है जबकि पुरुषों के लिए सुबह तीन और शाम को रोटी उनकी जरूरत के हिसाब से काफी होती हैं।

देर से पचती है रोटी (Takes Time To Digest )

गेंहू में पाया जाने वाले कार्बोहाइड्रेट को पचने मे ज्यादा समय लगता है। अगर रात में रोटी खा रहे हैं तो सोने में तुरंत पहले खाने से बचें। अच्छा होगा कि रोटी की मात्रा कम रखें, सोने के तीन घंटे पहले खाएं और खाने के बाद दस मिनट वॉक करें।

सही तरीके से बनाएं रोटी  (Way of Making It Important)

रोटी को सेहत के लिए अच्छी रखने के लिए उसे सही तरीके से बनाना जरूरी है। कच्ची रोटी डाइजेशन संबंधी परेशानी का कारण बन सकती है। गैस पर तेज आंच पर बनने के कारण रोटी अच्छी तरह से नहीं सिंक पाती है। कई लोग रोटी को फुलाने के लिए उसे गैस की आंच पर डाल देते हैं इससे भी रोटी ठीक से नहीं सिंक पाती है। बेहतर होगा कि तवे पर रोटी को दोनों तरफ से अच्छी तरह से सेंका जाए और साफ कपड़े की मदद से उसे तवे पर ही फुलाया जाए।