Fast Newz 24

Haryana news: हरियाणा सरकार ने शुरु की धांसू स्कीम, अब मिलेगा 3 लाख का लोन

इस योजना के माध्यम से 10,000 युवाओं को ठेकेदार बनाया जाएगा। इस योजना के तहत युवाओं को ₹300000 तक का ब्याज मुक्त ऋण भी प्रदान किया जाएगा। 
 
े

Fast News24: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी खट्टर द्वारा राज्य के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए एक नई योजना, कॉन्ट्रैक्टर सक्षम युवा योजना शुरू की गई है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी ने 15 मार्च को चंडीगढ़ में कॉन्ट्रैक्टर सक्षम युवा योजना का आधिकारिक पोर्टल लॉन्च किया है।

आमतौर पर विकास कार्यों के लिए अनुभव अनिवार्य है, लेकिन इस योजना के तहत बिना अनुभव वाले युवाओं को भी काम दिया जाएगा। इस पोस्ट में हम हरियाणा कॉन्ट्रैक्टर सक्षम योजना से संबंधित आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, दस्तावेज, लाभ और विशेषताएं, वेतन, अंतिम तिथि, आधिकारिक पोर्टल, पंजीकरण प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानेंगे।

पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक पढ़ें। यह योजना राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी खट्टर द्वारा शुरू की गई है। इस योजना के तहत इंजीनियरिंग, डिप्लोमा और डिग्री धारक युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा 10,000 युवाओं को 3 महीने तक प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण पूरा होने के बाद उन्हें ठेकेदार होने का प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। जिसके आधार पर युवा सरकार और पंचायत के विभिन्न विभागों के विकास कार्यों में ठेके ले सकेंगे.

इस योजना के तहत युवा 25 लाख रुपये तक की लागत वाले विकास कार्यों का ठेका ले सकेंगे. हरियाणा सरकार द्वारा कॉन्ट्रैक्टर सक्षम युवा योजना शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार के नए अवसर प्रदान करना है। इस योजना के तहत इंजीनियरिंग, डिप्लोमा और डिग्री धारक 10,000 युवाओं को राज्य सरकार द्वारा 3 महीने तक विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। ताकि उन्हें भविष्य में ठेकेदार के रूप में नियोजित किया जा सके। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार बुनियादी ढांचे से संबंधित निर्माण कार्यों में गुणवत्ता लाने के लिए युवाओं को तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान करके कुशल ठेकेदार तैयार करेगी। 

इस योजना के माध्यम से राज्य में बेरोजगारी दर भी कम होगी। स्वरोजगार हेतु ₹300000 का ऋण मनोहर लाल खट्टर जी ने बताया कि इस योजना के तहत स्वरोजगार स्थापित करने के इच्छुक प्रशिक्षित युवाओं को ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षित युवाओं को 1 वर्ष की अवधि के लिए ₹300000 तक का ऋण दिया जाएगा। जिसमें ब्याज सरकार द्वारा वहन किया जायेगा। इस लोन का लाभ उठाकर युवा अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकेंगे। ठेकेदार सक्षम युवा योजना के तहत प्रशिक्षण इस योजना के तहत युवाओं को दो श्रेणियों में प्रशिक्षण दिया जाएगा:

प्रशिक्षण की आधी अवधि में युवाओं को इंजीनियरिंग से संबंधित कार्य सिखाए जाएंगे। इसमें लेआउट तैयार करना, विस्तृत ड्राइविंग को समझना, लेआउट लागू करना, तकनीकी गणना गुणवत्ता बनाए रखना आदि जैसे कार्य शामिल होंगे। इसके बाद दूसरी श्रेणी में युवाओं को सिविल कार्य स्थलों पर व्यावहारिक प्रशिक्षण के लिए विभिन्न विभागों में भेजा जाएगा। ताकि उन्हें हर तरह का अनुभव मिल सके प्रशिक्षण पूरा होने के बाद युवाओं को एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा जिसके आधार पर वे विभिन्न सरकारी विभागों और पंचायतों में 25 लाख रुपये तक की लागत के विकास कार्य कर सकेंगे. 

कॉन्ट्रैक्टर सक्षम युवा योजना के लाभ एवं विशेषताएं ठेकेदार सक्षम युवा योजना के तहत शिक्षित बेरोजगार युवाओं को प्रशिक्षण और वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से राज्य के 10000 बेरोजगार युवा जिनके पास इंजीनियरिंग की डिग्री और डिप्लोमा है, लाभ उठा सकेंगे।

इस योजना के माध्यम से युवाओं को अपना स्वयं का रोजगार शुरू करने के लिए ₹300000 तक का ऋण बिना ब्याज के दिया जाएगा। राज्य के बेरोजगार युवाओं को ठेकेदार बनने के लिए 3 महीने की विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी. ठेकेदार सक्षम योजना के तहत पंजीकृत युवाओं को प्रशिक्षण पूरा होने के बाद एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा। ठेकेदार प्रमाणपत्र से युवा 25 लाख रुपये की लागत के विकास कार्य करने का ठेका ले सकेंगे। ठेकेदार सक्षम युवा योजना का लाभ लेने के लिए युवाओं को ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा।

कॉन्ट्रेक्टर सक्षम युवा योजना के तहत राज्य में बेरोजगारी दर कम होगी। ठेकेदार सक्षम युवा योजना पात्रता योजना का लाभ हरियाणा राज्य के मूल निवासी उठा सकते हैं। आवेदक की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। स्वरोजगार स्थापित करने के इच्छुक प्रशिक्षित युवा इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। 

राज्य के जिन युवाओं ने इंजीनियरिंग, डिप्लोमा या डिग्री प्राप्त की है वे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। आवेदक उम्मीदवार को सीईटी उत्तीर्ण होना चाहिए। परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी में नहीं होना चाहिए। आवेदक को बैंक द्वारा डिफॉल्टर घोषित नहीं किया जाना चाहिए।