Fast Newz 24


Income Tax : घर में सिर्फ इतना रख सकते हैं कैश, जान लें इनकम टैक्स के नियम

इनकम टैक्स एक्ट के मुताबिक घर में रखे पैसों पर कोई रोक नहीं है। लेकिन इनकम टैक्स विभाग (Income tax department) के छापे की स्थिति में व्यक्ति को कैश का सोर्स (Cash course) बताना होगा। 
 
घर में सिर्फ इतना रख सकते हैं कैश, जान लें इनकम टैक्स के नियम

Fast News24: भारत में अभी भी ज्यादातर परिवार घर में पैसे रखने के पारंपरिक तरीके (traditional way) पर भरोसा करते हैं। वह अभी भी बड़ी रकम बैंक (High value cash) में रखने की जगह घर में रखते हैं। ताकी, जरूरत पर काम आ सके। क्या आपको पता है कि घर में आप कितना कैश (Cash at home) रख सकते हैं जिससे इनकम टैक्स (Income tax) की नजर आप पर न पड़े। आपको इनकम टैक्स अधिकारियों को जवाब न देना पड़े।

क्या कहते हैं इनकम टैक्स के नियम (income tax rules) 

आपके पास आमदनी से ज्यादा कैश नहीं होना चाहिए। अगर आप इनकम से ज्यादा घर में रखे कैश (cash more than income)का जवाब नहीं दे पाए तो मुसीबत में फंस सकते हैं। इनकम टैक्स अधिकारी आप पर जुर्माना लगा सकते हैं। ऐसे मामले में आपका पैसा जब्त (money seized) हो जाएगा और जुर्माना कुल पैसे का 137% तक हो सकता है।

इनकम टैक्स विभाग (IT Department) के मुताबिक रख सकते हैं बस इतना कैश

1)  किसी भी व्यक्ति को लोन या जमा (Loan or savings)  के लिए 20,000 रुपये या उससे अधिक कैश स्वीकार करने की अनुमति नहीं है। ये नियम अचल संपत्ति के ट्रांसफर (transfer of real estate) पर भी लागू होता है।

2)  किसी भी फाइनेंशियल ईयर (financial year)  में 20 लाख रुपये से अधिक के कैश ट्रांजेक्शन (cash transaction) पर भी जुर्माना लगाया जा सकता है, अगर इसके सोर्स और हिसाब का न पता हो।

3)  सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेशन (CBDT) के मुताबिक एक बार में 50,000 रुपये से ज्यादा जमा करने या निकालने के लिए पैन नंबर (PAN Number) और डिटेल दिखाना जरूरी है।

4)  यदि कोई खाताधारक (Account holder) एक साल में 20 लाख रुपये से अधिक कैश जमा करते है, तो वह पैन और आधार की जानकारी देने के के लिए उत्तरदायी होंगे।

5)  कोई भी भारतीय नागरिक जांच एजेंसी की जांच के दायरे में आ सकता है अगर संपत्ति की सेल और परचेज (Sale and purchase of property) 30 लाख रुपये से अधिक कैश के जरिये की गई हो तो।

6)  क्रेडिट-डेबिट कार्ड  (Credit-Debit Card) से पेमेंट के दौरान अगर कोई कार्डधारक एक बार में एक लाख रुपये से अधिक का पेमेंट करता है तो उस व्यक्ति के खिलाफ जांच हो सकती है।

7)  रिश्तेदारों से एक दिन में करीब दो लाख रुपये की कैश राशि नहीं ले सकते। ये पेमेंट बैंक (Payment Bank) के जरिये होनी चाहिए।

इन स्थितियों में लिया जा सकता है एक्‍शन

अगर आप जांच एजेंसी (Investigation agency) को रुपए का सोर्स नहीं बता पाते हैं, तो आपके लिए बड़ी मुश्किल हो सकती है | ऐसे में जांच एजेंसी इस बात की जानकारी की जानकारी दी जाती है | फिर इनकम टैक्‍स विभाग (IT Department) की ओर से इस बात की जांच की जाती है कि आपने कितने का टैक्‍स भरा है | इस बीच अगर कैलकुलेशन में अनडिस्‍क्‍लोज कैश (Undisclosed cash) मिलता है तो इनकम टैक्‍स विभाग की ओर से आपके खिलाफ एक्‍शन लिया जा सकता है | ऐसे में आपसे अनडिस्‍क्‍लोज अमाउंट (Undisclosed cash amount) का 137% तक टैक्‍स वसूला जा सकता है |