Fast Newz 24

Delhi NCR में अचानक से बढ़ गए प्रोपर्टी के रेट, खरीदने से पहले कर लें चेक


दिल्ली में हवाई अड्डे के पास शिवमूर्ति से शुरू हो कर गुड़गांव होते हुए खेड़कीदौला तक जाने वाले एक्सप्रेसवे को चार चरणों में डेवलप किया जा रहा है। इसके कारण प्रोपर्टी के दाम में तेजी देखने को मिल रही है. 
 
Delhi NCR में अचानक से बढ़ गए प्रोपर्टी के रेट, खरीदने से पहले कर लें चेक

Fast News24: रियल एस्टेट सेक्टर के जानकारों का कहना है कि गुड़गांव में रियल एस्टेट सेक्टर में एक नया डेवलपमेंट हुआ है। यह डेवलपमेंट है द्वारका एक्सप्रेसवे। इस एक्सप्रेसवे को कोई मील का पत्थर बता रहे हैं तो कोई रियल एस्टेट विकास और आर्थिक विकास का अग्रदूत बता रहे हैं। आइए जानते हैं कुछ रियल एस्टेट डेवलपर्स क्या कह रहे हैं इस बारे में ।

ऐतिहासिक परियोजना से मिलेगी बेहतर कनेक्टिविटी

नारेडको (NAREDCO) के नेशनल प्रेसिडेंट जी. हरि बाबू का कहना है कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा द्वारका एक्सप्रेसवे के हरियाणा खंड के उद्घाटन का वह स्वागत करते हैं। यह ऐतिहासिक परियोजना बेहतर कनेक्टिविटी के साथ इस क्षेत्र में समावेशी विकास को बढ़ावा देगा और रियल एस्टेट सेक्टर में घरेलु और विदेशी निवेश को निवेश को आकर्षित करेगा। वह एनसीआर क्षेत्र में इस कॉरिडोर सकारात्मक प्रभाव को देखने के लिए उत्सुक हैं।

गुड़गांव के प्रॉपर्टी मार्केट को मिलेगा नया आकार

सिग्नेचर ग्लोबल (इंडिया) लिमिटेड के फाउंडर एंड चेयरमैन प्रदीप अग्रवाल ने कहा, "द्वारका एक्सप्रेसवे के गुड़गांव खंड का अनावरण रियल एस्टेट क्षेत्र और मिलेनियम सिटी के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है, जो आशावाद और विकास को प्रसारित करता है। यह एस्टेट -ऑफ-आर्ट परियोजना में एक आधुनिक आठ-लेन एक्सप्रेसवे शामिल है, जो रणनीतिक रूप से दिल्ली और गुरुग्राम के प्रमुख स्थानों को जोड़ता है और गुड़गांव के प्रॉपर्टी मार्केट के परिदृश्य को नया आकार देता है। यह परियोजना एक गतिशील अर्बन सेंटर को बढ़ावा देने के लिए सरकार के समर्पण के प्रमाण के रूप में खड़ी है। एक्सप्रेसवे चरणबद्ध विकास से गुजर रहा है, यह शहर भर के स्थानों की प्रगति में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है, घर खरीदारों और निवेशकों दोनों का ध्यान समान रूप से आकर्षित कर रहा है। यह नया एक्सप्रेसवे न केवल द्वारका एक्सप्रेसवे बल्कि यहां से कनक्टेड एसपीआर, न्यू गुरुग्राम और सेक्टर 37 डी के नजदीकी इलाकों और स्थानों के लिए बेहतर कनेक्टिविटी प्रदान करेगा, बल्कि यह प्राइस एप्रिसिएशन के लिए उत्प्रेरक होगा और क्षेत्र में रियल एस्टेट बाजार के लिए उज्ज्वल भविष्य का वादा करेगा।”

यात्रा समय में आएगी कमी

ब्रह्मा ग्रुप के एवीपी ऑपरेशंस आशीष शर्मा ने कहा कि द्वारका एक्सप्रेसवे के 19 किलोमीटर लंबे हिस्से का उद्घाटन क्षेत्र की विकास यात्रा में एक माइलस्टोन है। इससे दोनों शहरों के विभिन्न कोनों के बीच यात्रा का समय काफी कम हो जाएगा, जिससे यात्रियों के लिए आवागमन में वृद्धि होगी। यह प्रमुख इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट क्षेत्र की तीव्र आर्थिक वृद्धि के लिए उत्प्रेरक होगा। इसके अलावा, कमर्शियल सेंटर, प्रीमियम कॉम्प्लेक्स और एकीकृत मनोरंजक सुविधाओं के उद्भव के साथ, इस क्षेत्र ने सुधार का अनुभव किया है। इससे इसके मार्ग में प्रॉपर्टी की मांग में भी वृद्धि हुई है, जो नए लॉन्च और प्रॉपर्टी की कीमत में वृद्धि के माध्यम से दर्शाती है। डेवलपर्स इस कॉरिडोर की अपार संभावनाओं को पहचानते हैं क्योंकि यह समृद्धि का एक नया युग शुरू करता है, जो घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों निवेशकों की रुचि को आकर्षित करता है और मजबूत आर्थिक विकास का वादा करता है। इस प्रमुख विकास से क्षेत्र में और उसके आसपास व्यापार और वाणिज्यिक गतिविधि के नए रास्ते खुलने की संभावना है जो निश्चित रूप से रियल एस्टेट बाजार पर सकारात्मक प्रभाव डालेगा।

10 से 15 फीसदी बढ़ेगी कीमत

स्क्वायर यार्ड्स के एसोसिएट प्रिंसिपल पार्टनर रजत लिखयानी का कहना है कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बहुप्रतीक्षित द्वारका एक्सप्रेसवे का उद्घाटन क्षेत्र में रियल एस्टेट विकास और आर्थिक विकास के अग्रदूत के रूप में कार्य करेगा। गुरुग्राम, सोहना, फ़रीदाबाद और नई दिल्ली सहित आसपास के क्षेत्रों की कनेक्टिविटी को बढ़ाने के अलावा, एक्सप्रेसवे आस-पास के बिजनेस पार्कों, लॉजिस्टिक्स हब, नई टाउनशिप में निवेश के अवसरों को प्रोत्साहित करेगा, जिससे व्यवसायों, निवासियों और निवेशकों के लिए एक गतिशील पारिस्थितिकी तंत्र तैयार होगा। एक्सप्रेसवे के विभिन्न क्षेत्र पहले से ही रियल एस्टेट के लिए प्रमुख हॉटस्पॉट के रूप में उभरे हैं, जिनकी कीमतें 12000-15000 रुपये प्रति वर्ग फुट तक हैं। अब एक्सप्रेसवे चालू होने के साथ, आने वाले महीनों में कीमतों में 10-15% की वृद्धि होने की उम्मीद है। इस विकास का प्रभाव गुरुग्राम और सोहना पर पड़ेगा, जिससे व्यापार और रियल एस्टेट गतिविधियों में परिवर्तनकारी बदलाव आएगा। हम निकट भविष्य में रीयलटर्स को प्रीमियम निवेशकों और घर खरीदारों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए उबर-लक्जरी परियोजनाओं की घोषणा करते हुए देख सकते हैं।

लक्जरी हाउसिंग का बाजार बढ़ेगा

क्रिसुमी कारपोरेशन के एमडी मोहित जैन का कहना है कि प्रमुख बुनियादी ढांचा परियोजनाएं अर्थव्यवस्था के लिए उत्प्रेरक का काम करती हैं। यही कारण है कि सरकार ऐसे विकास को प्राथमिकता देती है। एक क्षेत्र के रूप में रियल एस्टेट को बेहतर कनेक्टिविटी से अत्यधिक लाभ होता है। द्वारका एक्सप्रेसवे के गुरुग्राम खंड पर भी इसी तरह का सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न होने की उम्मीद है। हमें उम्मीद है कि अगले कुछ वर्षों तक गुरुग्राम में, विशेष रूप से एक्सप्रेसवे के पास, विभिन्न प्रकार की संपत्तियों की मजबूत मांग जारी रहेगी। इस वृद्धि में संभवतः आवासीय और वाणिज्यिक दोनों क्षेत्र शामिल होंगे। लक्जरी हाउसिंग बाजार के भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। शीघ्र ही यह इलाका रेसिडेशियल और कामर्शियल रियल एस्टेट का मेजर हब बनेगा।

द्वारका एक्सप्रेसवे का पूरा होना एक परिवर्तनकारी घटना

अनंत राज लिमिटेड के निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमन सरीन का कहना है कि जयपुर एक्सप्रेसवे के पूरा होने के बाद दिल्ली-गुरुग्राम में जबरदस्त विकास हुआ है और यह आर्थिक और बुनियादी ढांचे की गतिविधियों का प्रमुख केंद्र बन गया है। इसी तरह, द्वारका एक्सप्रेसवे का पूरा होना एक परिवर्तनकारी घटना बनने की ओर अग्रसर है, विशेष रूप से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में, जिससे गुरुग्राम को महत्वपूर्ण लाभ का अनुभव होगा। यह नया एक्सप्रेसवे दिल्ली-गुरुग्राम खंड पर भीड़भाड़ को कम करने का वादा करता है, जो दिल्ली और गुरुग्राम के लिए विकास का एक और गलियारा पेश करता है। उनका कहना है कि रियल एस्टेट के नजरिए से, द्वारका एक्सप्रेसवे के पूरा होने से मकान के वैसे असंख्य खरीदारों को फायदा होगा, जिन्होंने इस क्षेत्र में संपत्तियों में निवेश किया है।

चार चरणों में बन रहा है द्वारका एक्सप्रेसवे

इसके हरियाणा वाले हिस्से को आज शुरू किया जा रहा है। दिल्ली में बचे हुए करीब 10 किलोमीटर के हिस्से को पूरा होने में अभी भी कुछ वक्त लगेगा। देखा जाए तो करीब 9000 करोड़ रुपये की इस परियोजना को चार पैकेजों या चरणों में विकसित किया जा रहा है। कहा जा रहा है कि इस एक्सप्रेसवे के आसपास लक्जरी रियल एस्टेट का एक नया ठिकाना डेवलप होना शुरू हो गया है।