Fast Newz 24

हरियाणा में गरीबी और अभावग्रस्त, परिवारों को 40 रुपये में मिलेगा 2 लीटर सरसों का तेल, सरकार ने जारी किया आदेश

गरीबी और अभावग्रस्त क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों के लिए बड़ी खुशखबरी! हरियाणा सरकार ने खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले निदेशालय द्वारा नए आदेश जारी किए हैं, जिसमें गरीब परिवारों को सरसों के तेल का पूरा लाभ मिलेगा। इस पहल के तहत गरीब परिवारों को मुफ्त तेल वितरित किया जाएगा।
 
हरियाणा में गरीबी और अभावग्रस्त, परिवारों को 40 रुपये में मिलेगा 2 लीटर सरसों का तेल, सरकार ने जारी किया आदेश


Haryana Update: यह नया फैसला वास्तव में महत्वपूर्ण है, क्योंकि रसोई में तेल पकाने का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है और यह गरीब परिवारों के स्वास्थ्य और आहार में बदलाव लाएगा।

हरियाणा के डिप्टी सीएम ने की बड़ी घोषणा, कि एशिया का सबसे बड़ा IT हब, अब हरियाणा के इस जिले में बनेगा

नये आदेश का विवाद

हालांकि, नए आदेश का असर उन परिवारों पर पड़ा है जो खुद को बीपीएल या एएवाई कार्ड धारक मानते हैं। पहले इन परिवारों को मुफ्त तेल भी मिलता था, लेकिन नए आदेश के तहत इन्हें 40 रुपये प्रति लीटर की दर से 2 लीटर सरसों का तेल मिलेगा. इस फैसले का असर सालाना 1 लाख रुपये से ज्यादा कमाने वाले परिवारों पर पड़ेगा. इससे उन्हें अब तेल का मुफ्त वितरण नहीं मिल पाएगा।


यह बदलाव भी दोनों श्रेणियों के बीच विवाद का कारण बन रहा है। उल्लेखनीय है कि जिन परिवारों को एआईआई या बीपीएल कार्ड मिला है, उनकी वार्षिक आय कम है और वे इस योजना से लाभान्वित हो रहे हैं, जबकि 1 लाख रुपये से अधिक आय वालों को अब यह सुविधा नहीं मिलेगी। इससे उन्हें दुख होगा और यह वास्तविक न्यायाधीश का मामला भी बन सकता है।


डिपोधारकों की शंका

बदलाव के असर को लेकर डिपो होल्डर भी चिंतित हैं। उन्हें विवाद के बीच फंसने का जोखिम रहता है। इस सरसों के तेल को बांटने की जिम्मेदारी डिपो होल्डरों की है, लेकिन नए आदेश के मुताबिक अब उन्हें इसके वितरण पर विशेष ध्यान देना होगा। इसके अलावा, दोनों श्रेणियों के बीच विवाद को सुलझाने के लिए उन्हें समय-समय पर सरकार के संपर्क में भी रहना होगा।


सरकार उचित कदम

इस स्थिति के समाधान के लिए सरकार को उचित कदम उठाने की जरूरत है। सबसे पहले, एक सामान्य मानक निर्धारित किया जा सकता है जिसके अनुसार कम वार्षिक आय वाले परिवारों को तेल वितरित किया जाता है।

इससे संबंधित आय की एक स्पष्ट सीमा निर्धारित की जा सकती है, जिससे अन्य विवादों में कमी आ सकती है। दूसरा, डिपो धारकों को सरकार द्वारा पूर्ण समर्थन देने की आवश्यकता है, ताकि वे समस्या को हल करने के लिए उचित प्रतिक्रिया दे सकें।

इस पहल के जरिए हरियाणा सरकार ने गरीब परिवारों के लिए एक बड़ा कदम उठाया है, जिससे उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव आ सकता है। हालाँकि, यह सुनिश्चित करना सरकार की ज़िम्मेदारी है कि उच्च आय वाले परिवारों को नए फैसले से नुकसान न हो और सभी को योजना से उचित लाभ मिले। उचित समाधान और विशेषज्ञ सलाह से सरकार इस समस्या का समाधान कर सकती है और गरीब परिवारों में खुशी और शांति ला सकती है।

हरियाणा-दिल्ली NCR के लिए खुशखबरी, अब इन इलाकों में दौड़ेगी देश की पहली रिंग मेट्रो, जानें रूट मैप

Tags: हरियाणा न्यूज, हरियाणा न्यूज हिंदी, हरियाणा सरकार, सरसों तेल, राशनकार्ड, बीपीएल, एएवाई, Haryana News, Haryana News Hindi, Haryana Government, Mustard Oil, Ration Depo, BPL, AAY",haryana news